गणेश चतुर्थी की शुरुआत आज 22 अगस्त से शुरुआत हो गया है आप इस त्योहार के मौके को और भी खास बना सकते हैं इन 11 दिन आप गणेश जी को प्रसन्न कर सकते हैं अपनी सभी इच्छाएं प्राप्त कर सकते हैं


गणेश जी को जो जो पसंद है वह इन सभी 11 दिनों में आप पूर्ण कर सकते हैं जैसे कि गणेश जी को दूबी पसंद है तो आप दूबी का माला बनाकर गणेश जी को चला सकते हैं मोदक का भोग लगा सकते हैं

और भी ऐसी बहुत सारी चीजें हैं जो कि गणेश जी को पसंद है आप उन सभी चीजो कर सकते हैं गणेश जी को प्रसन्न कर सकते हैं

गणेश चतुर्थी शुभ मुहूर्त

आज का पहला मुहूर्त 11:07 से 1:42 तक है
उसके बाद दूसरा मुहूर्त 4:22 से 7:22 मिनट तक है
उसके बाद तीसरा मोर्चा 9:12 से 11:23 तक है

वैसे तो यह दिन बहुत खास होता है यह दिन गणेश जी का ही होता है आप इस दिन किसी भी समय गणेश जी की स्थापना कर सकते हैं पर अगर आप यह मुहूर्त में करते हैं तो और आपको लाभ होगा

गणेश चतुर्थी पूजा विधि

गणेश चतुर्थी की पूजा स्थापना करने के लिए आप सबसे पहले एक स्वच्छ स्थान में लाल कपड़ा रखें उसके ऊपर गंगाजल का छिड़काव करें फिर गणेश जी को रखते

उसके बाद गणेश जी को दूर्वा सिंदूर फूल से सजाएं फिर गणेश चालीसा का पाठ करें या कोई गणेश करता है तो उसका पाठ करें फिर आरती कर ले

आज के दिन आप इस मंत्र के द्वारा गणेश जी को और भी प्रसन्न न कर सकते हैं

गणेश मंत्र

ऊं गं गणपतये नम: मंत्र का जाप करें। 

ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा
ॐ एकदन्ताय विद्महे वक्रतुंडाय धीमहि तन्नो बुदि्ध प्रचोदयात।।
गं क्षिप्रप्रसादनाय नम:
ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुंड, गणपति गुरु गणेश
ग्लौम गणपति, ऋदि्ध पति। मेरे दूर करो क्लेश।।

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.

नया पेज पुराने